namita-thapar-pharmaceutical

बदलते भारत की नई सोच टैगलाइन पर आधारित शार्क टैंक इंडिया रियलिटी शो की ओर बहुत से दर्शक आकर्षित हुए | लोगों की नजरे इस बात के लिए टिकी रहती कि किसे क्या, कितना और किस शार्कस् से या कितने शार्कस् से मिला | 

‘शार्क टैंक इंडिया’ शो, अमेरिकन रियलिटी शो से प्रेरित है, जिसे इंडिया में शुरू किया गया है | यह एक बिजनेस रियलिटी टेलीविजन शो है, जिसने दुनियाभर में काफी लोकप्रियता हासिल की है |

शार्क टेक इंडिया सीजन – 1 में इनोवेटिव बिजनेस आइडिया दिखाने का मौका दिया गया | इसमें महिला एंटरर्प्रेन्योरस् की हिस्सेदारी ने सबको प्रभावित किया |

“इसमें मेरी एक्सपर्टिस् नही है, तो मैं इससे बाहर हूँ” शार्क टेक की जज नमिता थापर कि यह बात तो याद ही होगी आपको | 

तो क्या आप जानते है?

2001 से लेकर अब तक नमिता थापर अमेरिका की अलग-अलग कंपनी जैसे ग्लैक्सो, स्मिथक्लाइन और गाइडेंट क्रॉरपोरेशन में फाइनेंस और मार्कटिंग के विभिन्न पदो पर जुडी़ रही | 

6 साल तक गाइडेंट क्रॉरपोरेशन के साथ जुड़े रहने के बाद नमिता थापर 2007 में सीएफओ के तौर पर एमक्योर फार्मास्यूटिकल में शामिल हो गईं | 

एमक्योर फार्मास्यूटिकल पुणे, महाराष्ट्र में स्थित एक भारतीय बहुराष्ट्रीय दवा कंपनी है, जिसके अंतर्गत मुख्य उत्पादन में टैबलेट, कैप्सूल और इंजेक्शन शामिल हैं।

एमक्योर में अपने काम के अलावा नमिता थापर इंक्रेडिबल वेंचर्स लिमिटेड का भी नेतृत्व करती हैं, जो एक एजुकेशन कंपनी है | इस समय बिजनेस और अपने निवेश से नमिता थापर का नेट वर्थ करीब 600 करोड़ रूपये है |

प्रसिद्ध भारतीय बैंकर नैना लाल किदवई और भारतीय-अमेरिकी बिजनेस टाइकून इंदिरा नुई उनकी रोल मॉडल्स हैं |

उन्हें यात्रा करने और किताबे पढ़ने का बहुत शौक हैं | और वह बॉलीवुड फिल्मों की भी बहुत बड़ी दीवानी हैं |

चलिए जानते है नमिता थापर के बारे में….

जन्म और प्रारंभिक जीवन

नमिता थापर का जन्म 21 मार्च 1977 को पुणे में हुआ था | वह एक गुजराती परिवार से हैं | उनके पिता का नाम सतीश मेहता और माँ का नाम भावना मेहता है | वह पूणे के एक संपन्न परिवार में पली-बढ़ी हैं |

उनके पिता एमक्योर फार्मास्युटिकल्स के संस्थापक हैं | उनके भाई का नाम समित मेहता है, जो एमक्योर फार्मास्युटिकल्स में आर एंड डी अध्यक्ष हैं |

उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा पुणे में ही पूरी की | वह एक होनहार विद्यार्थी रही है और हमेशा अपनी क्लास की टॉपर रही | उन्होंने सवित्रीबाई फूले विश्वविद्यालय से बी.कोम की डिग्री ली | 

उन्होंने उत्तरी कैरोलिना में ड्यूक विश्वविद्यालय फूक्वा स्कूल ऑफ बिजनेस से एमबीए किया | नमिता आईसीएआई से सर्टिफाइड चार्टर्ड अकाउंटेंट भी हैं |

करियर

नमिता ने अपने पिता के व्यवसाय, एमक्योर फार्मास्युटिकल्स में शामिल होने से पहले छह साल तक अमेरिका के गाइडेंट कॉरपोरेशन में काम किया | वह कंपनी में सीएफओ, मुख्य वित्तीय अधिकारी के रूप में शामिल हुई थीं और अब कंपनी की कार्यकारी निदेशक हैं |

एमक्योर के कार्यकारी निदेशक के रूप में, नमिता थापर देश भर में लगभग 4000 चिकित्सा प्रतिनिधियों के साथ भारत में कंपनी के व्यवसाय का नेतृत्व कर रही है |

वह टीआईई मुंबई बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज में ट्रस्टी के रूप में भी काम करती हैं | साथ ही यंग प्रेसिडेंट्स ऑर्गनाइजेशन की भी सक्रिय सदस्य हैं |

नमिता थापर फुक्वा स्कूल ऑफ बिजनेस इंडिया के क्षेत्रीय सलाहकार बोर्ड की सदस्य भी हैं | 

उन्होंने 2017 में इंक्रेडिबल वेंचर्स लिमिटेड, एक एजुकेशन कंपनी की स्थापना की | इस कंपनी का उद्देश्य 11-18 आयु वर्ग के बच्चों को उद्यमिता कौशल सिखा युवा उद्यमिता को बढ़ावा देना है | कंपनी की मुंबई, दिल्ली, बैंगलोर, चेन्नई और अहमदाबाद में शाखाएँ है |

एक सफल उद्यमी के रूप में, नमिता थापर हार्वर्ड बिजनेस स्कूल, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट अहमदाबाद (आईआईएम ए), ईटी महिला सम्मेलन, एफआईसीसीआई, जैसे प्रतिष्ठित मंचों पर वक्ता भी रही हैं |

नमिता थापर भारत में महिलाओं के स्वास्थ्य सुधार और युवा उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए सदैव तत्पर रहती हैं | 2020 में उन्होंने (Unconditional Yourself with Namita) नमिता के साथ महिलाओं के स्वास्थ्य पर एक अनूठा यूट्यूब टॉक शो (YouTube talk show) लॉन्च किया, जिसका उद्देश्य प्रामाणिक जानकारी दे महिलाओं के स्वास्थ्य से जुड़े मिथकों और वर्जनाओं को तोड़ना है |

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा G2B की भागीदारी हेतु शुरू किए गए कार्यक्रमों नीति आयोग के ‘महिला उद्यमिता मंच’, ‘डिजिटल हेल्थ टास्क फोर्स’ और ‘चैंपियंस ऑफ चेंज’ जैसी विभिन्न सरकारी पहलों के साथ भी नमिता थापर जुड़ी हुई हैं |

व्यक्तिगत जीवन

नमिता थापर ने प्रसिद्ध व्यवसायी विकास थापर से शादी की है | उन्होंने कैलिफोर्निया के प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय, सैन डिएगो से प्रबंधन विज्ञान में बीएस करने के बाद, यूएससी मार्शल स्कूल ऑफ बिजनेस, कैलिफोर्निया से एमबीए किया |

विकास थापर वर्तमान में उनकी कंपनी एमक्योर फार्मास्युटिकल्स के वरिष्ठ उपाध्यक्ष हैं | 

विकास थापर कई बड़ी कंपनियों को वित्तीय सहायता और मूल्य वर्धित व्यवसाय करने में अपनी असाधारण विशेषज्ञता प्रदान करने के लिए कॉर्पोरेट क्षेत्र में जाने जाते हैं |

नमिता थापर और विकास थापर के दो बेटे है – वीर और जय |

पुरस्कार और सम्मान

  • विश्व महिला नेतृत्व कांग्रेस सुपर अचीवर अवार्ड |
  • द इकोनॉमिक टाइम्स 40 अंडर 40 अवार्ड |
  • बार्कलेज हुरुन नेक्स्ट जेन लीडर अवार्ड |
  • नमिता थापर को इकोनॉमिक टाइम्स (2017) की वीमेन अहेड लिस्ट में शामिल किया गया था |

कैसी लगी आपको नमिता थापर की बायोग्राफी | अपने विचार हमे कमेंट के माध्यम से जरूर बतायें |

महिला होने का हवाला दे अपनी परिस्थितिओं और पितृसत्ता को अधार बना स्वयं को कमजोर और असहाय मानना बंद करें | अपनी क्षमता और बुद्धिमता पर विश्वास करें | हर महिला का विकास तब ही संभव है, जब वह आर्थिक रूप से स्वावलंबी होगी | 

इरादो में जुनून भर अगर किसी भी उद्देश्य की ओर बढ़ा जाए तो सफलता अवश्य आपका माथा चुमेगी | बस आत्मविश्वास के साथ आप अपने पथ पर अग्रसर रहें |

Jagdisha आप सभी एंटरप्रेन्योर युवा और महिलाओं के लिए प्रेरणा हैं | आप भविष्य में भी प्रसिद्धि की नई ऊँचाईयाँ चढ़े |

Leave a Reply

Your email address will not be published.