mask force

दो गज दूरी मास्क है जरूरी!

कथनी और करनी में बहुत अंतर होता | सत्य ही है, क्योंकि कहने वाले कहते रह जाते है | और करने वाले करके दिखाते है |

आत्मविश्वास और कुछ बहतर करने की ललक इंसान के व्यक्तित्व को निखार देते है |

द हुनर फाउंडेशन की निर्देशक और संस्थापिका डॉ नितिका सिंह गौर ने शुरूआत से ही कोरोना पीड़ितों की सहायता के लिए सोशल मीडिया पर सहायता समूह बनाकर उचित जानकारी जरूरतमंदो तक पहुँचाई | अपनी सिलाई मशीन को घुमा स्वयं बनाएं थे, मास्क | और हर जरूरतमंद के बीच मास्क वितरित किये | साथ ही 5 वर्ल्ड रिकार्ड, यूपी बुक रिकार्ड और इंडिया बुक रिकार्ड अपने नाम किए | 

और अब देश की यह बेटी मास्क फोर्स की अलक पूरे देश में जगा रही है |

अब आप सोच रहे होगे यह मास्क फोर्स क्या है? 

यह शुरूआत है या यू कहे कि प्रयास है, कोरोना मुक्त देश की कल्पना को वास्तविकता में बदलने की |

नितिका सिंह गौर ने 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के उपलक्ष्य पर लखनऊ और झांसी से मास्क फोर्स पहल की शुरूआत की | जिसके अंतर्गत मास्क फोर्स समूह का गठन किया गया | 

साथ ही मास्क फोर्स का सबसे बड़ा बैनर बनाकर मिसाल कायम की गई| और देश के हर एक कोने में इसकी गूंज उठ रही है|

मास्क फोर्स ने लोगो में कोरोना से जुडी आवश्यक सावधानियों के प्रति जागरूकता फैलाई|


यह भी पढ़ें- हर महिला को सशक्त होने के लिए ये जानना बहुत जरूरी है

मास्क का प्रयोग क्यों करना आवश्यक है? 

कोरोना मुख्य रूप से श्वसन बूंदों के माध्यम से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है | जब आप खांसते या छींकते हैं, बात करते हैं या गाते हैं तो श्वसन की बूंदें हवा में चली जाती हैं|

फिर ये बूंदें आपके आस-पास के लोगों के मुंह या नाक में जा सकती हैं | 

आपकी सांस की बूंदों को दूसरों तक पहुंचने से रोकने में मदद करने के लिए मास्क एक आसान तरीका है| 

तो हमेशा ध्यान रखें मास्क ऐसे पहने कि आपके नाक और मुंह अच्छे से कवर हो| मास्क को नाक और ठोडी से नीचे न घिसकाएं |

अकेले एक मास्क भले ही पूरी तरह से कोरोना को फैलने से रोकने में समर्थ न हो, लेकिन इसका सही प्रयोग काफी हद तक कोरोना वायरस से बचाव में आपकी मदद कर सकता है |

मास्क पहनना बहुत आवश्यक है लेकिन अगर इससे आपको सांस लेने में समस्या हो रही हो तो कुछ देर के लिए इसे मुंह पर से हटा लें | ध्यान रखें इस दौरान कोई बाहरी या अंजान शख्स आपके संपर्क में न हो |

यदि आप मेडिकल मास्क पहन रहे हैं, तो सुनिश्चित करें कि यह ठीक से फिट बैठता है और आप सामान्य रूप से सांस ले पा रहे है| डिस्पोजेबल मास्क का दोबारा इस्तेमाल न करें और जैसे ही यह गीला हो जाए इसे हमेशा बदल दें|

कपडे का मास्क पहनते समय, मास्क लगाने और उतारने से पहले अपने हाथों को धोना सुनिश्चित करें और अपने मास्क की साफ-सफाई का ध्यान रखें |

कोरोना से सुरक्षित रहने के लिए आवश्यक सावधानियां क्या है?

अपने हाथों को समय-समय पर धोते रहें | हाथो को साबुन और पानी से हाथ धोएं या आप चाहें तो एक अल्कोहॉल बेस्ड सैनेटाइज़र भी इस्तेमाल कर सकते हैं | 

अपनी आंखों नाक और मुंह को छूने से बचें | हम अपने हाथ से कई सतहों को छूते हैं और इस दौरान संभव है कि हमारे हाथ में वायरस चिपक जाए | अगर हम उसी अवस्था में अपने नाक, मुंह और आंख को छूते हैं तो वायरस के शरीर में प्रवेश की आशंका बढ़ जाती है |

डॉक्टर नितिका सिंह गौर द्वारा संचालित मास्क फोर्स अभियान को गति प्रदान की सभी समाजसेवी संस्थानों ने जो देश के हर एक कोने से इस मुहीम में शामिल हुए | 

कोरोना मुक्त देश बनाने का संकल्प लेते हुए लोगो को जागरूक करने के साथ साथ 2 गज दूरी मास्क है जरूरी इस पहल को दृढ़ता पूर्वक बढ़ावा दे रहे हैं |

मुख्य रूप से शामिल समाजसेवी संस्थाएं है;  द हुनर फाउंडेशन, टीम फूड, संकल्प फाउंडेशन, नीशू वेलफेयर फाउंडेशन, अग्रिम वेलफेयर फाउंडेशन, मां गायत्री जन सेवा संस्थान, हेल्पिंग हैंड |

देश के हर एक कोने जैसे लखनऊ, झांसी, राजस्थान, नई दिल्ली, चंद्रपुर महाराष्ट्र, उन्नाव, मऊरानीपुर, पुणे, बैंगलोर, बिहार, कुशीनगर, आगरा, बरेली, गुरुग्राम, मुजफ्फरनगर में मास्क फोर्स ने लोगों को कोरोना सुरक्षा के लिए सावधानिओं से अवगत कराया |  

मुख्य रूप से स्लम एरिया, मलिन बस्ती के लोगो के साथ-साथ शहर के पढ़े लिखे वर्ग को भी सजग एवम सतर्क रहने का संदेश दिया गया | 

डॉक्टर नितिका सिंह गौर ने न केवल मास्क फोर्स समूह का गठन किया बल्कि आगे भी देश के हर एक कोने में इस अभियाध को फैलाने का संकल्प लिया |

इस मुहीम को आगे ले जाने में जिनका मुख्य योगदान रहा उनके नाम है; हेमा पांडे जी, गुंजन वर्मा जी, अरूण प्रताप सिंह जी, आयुष पांडे, हिमांशु अग्रवाल, ताबिश नसीम, अमर वर्मा, हिमांशु जोनवाल, सरताज अली, अयान, आशुतोष बादल, दानेश, सिद्धार्थ, नीलेश नामदेव, अभिषेक कनौजिया, जावेद अली, आमिर खान, आदिल खान, प्रिय सैनी, नीलू कुमारी, अलीमुल्ला सिद्धिकी, फरहीन हुसैन, सूफी शेख, फैयाज अहमद, मोहम्मद साकिव, प्रदीप कुशवाहा, नौशाद अली,  जुबैर अशरफ, प्रतीक कुमार सिंह, सुरभि अग्रवाल,  सचिन नंदी, इप्शिता अरोड़ा, दिव्या अरोड़ा, कीर्ति, शालिनी चौबे जी, डाक्टर आलोक तिवारी, अजीत सिंह, इंदू शिखर, विजय सनवाल, गिरीश पांडे, भगवती सनवाल, निशा मिश्रा, ने देश के हर एक कोने से मास्क फोर्स का  नेतृत्व किया |

नये समुद्रों की खोज केवल वो ही

कर सकता है जिसमे अपने तट को

छोड़ने का साहस हो |

Jagdisha आपकी सोच और कर्तव्य परायणता की सराहना करते है | साथ ही मास्क फोर्स अभियान की पूर्ण सफलता के लिए कामना करते है| 


Mask force initiative for corona liberation




Leave a Reply

Your email address will not be published.